आप यहाँ पर हैं

मशरूम सर्दियों में स्वास्थ्य के लिए वरदान है जानिए कैसे

मशरूम हमारे स्वास्थ्य के लिए वरदान है ये बहुत कम लोग जानते होंगे। इसमें इतने विटामिन्स और पोषक तत्व होते हैं कि अगर मशरूम को पूरी सर्दी तीन चार महीने खाएं तो यह हमारे शरीर में पोषक तत्वों की कमी पूरी करने के साथ साथ हमारे शरीर में दो तीन महीने के लिए पोषक तत्व जमा कर देता है।
मशरूम को भारत में सब्जियों के रूम में इस्तेमाल किया जाता है. लेकिन यह सब्जियों की श्रेणी में नहीं आता है। यह फंगी ‘कवक’ की श्रेणी में आता है। यह बहुत ही ज्यादा पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यह खाने में बहुत ही स्वादिष्ट होता है और शादी पार्टियों में जरूर परोसा जाता है। इसको को शाकाहारी और मांसाहारी दोनों लोग खा सकते हैं।

मशरूम
मशरूम हमें कई तरह के पोषक तत्व प्रदान करने के साथ साथ बहुत से फायदे पहुंचाते हैं

मोटापे और डायबिटीज में लाभ

मशरूम खाने से धीरे धीरे मोटापा ख़त्म हो जाता है। यह वजन कम करने के साथ डायबिटीज और ह्रदय रोग से बचाता है और शरीर में कॉलेस्ट्रोल कम करने में मदद करता है। इसमें बहुत अधिक मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो डायबिटीज ख़त्म करने में मदद करता है।

कैंसर में लाभ 

मशरूम में बहुत अधिक मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट पाया जाता है. यह हमें कैंसर से बचाता है। सेलेनियम एक ऐसा पोषक तत्व होता है जो अधिकतर फलों में भी नहीं पाया जाता लेकिन मशरूम में यह बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है। यह लीवर में पाए जाने वाले एंजाइम को शक्तिशाली बनाकर कैंसर पैदा करने वाले रसायनों को शरीर से बाहर कर देता है। सेलेनियम सूजन को भी कम करता है और कैंसर की ग्रोथ को रोक देता है। विटामिन डी हमारे शरीर के लिए सबसे जरूरी पोषक तत्व होता है। मशरूम में यह प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। इसके नियमित सेवन से हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी पूरी हो जाती है। मशरूम में पाया जाने वाला फोलेट, कैंसर को ख़त्म कर देता है या कैंसर के विकास को रोक देता है।

ह्रदय रोगों में लाभ

मशरूम में पाया जाने वाला फाइबर, पोटेशियम और विटामिन सी, ह्रदय रोगों से दूर रखते हैं। पोटेशियम और सोडियम दोनों मिलकर ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करते हैं और मशरूम में पोटेशियम अधिक और सोडियम कम मात्रा (शरीर के लिए जरूरी) में होता है जो हमारे शरीर में रामवाण का काम करता है। यह हमारे शरीर में बढे हुए ब्लड प्रेशर को कम करता है और ह्रदय रोगों से बचाता है।

रोग प्रतिरोधक क्षमता में लाभ

मशरूम में पाया जाने वाला सेलेनियम रोग प्रतिरोधक क्षमता को काफी बढ़ा देता है। यह इतना ताकतवर होता है कि कैंसर की ग्रोथ को भी रोक देता है और छोटी मोटी बीमारियों को दूर भगा देता है। इसमें पाया जाने वाला विटामिन D और विटामिन बी-12, हड्डियों की मजबूती के लिए बहुत ही जरूरी पोषक तत्व हैं।

लेख का सार

मशरूम एक ऐसे सब्जी है जिसे हम फंक्शनल फूड कह सकते हैं। जैसे गाड़ियों में पेट्रोल डालने के बाद उन्हें किसी और इंधन की जरूरत नहीं होती वैसे ही मशरूम खाने के बाद किसी और चीज की जरूरत नहीं होती। यह एक बैलेंस फूड है जिसे हर कोई खा सकता है। इसमें सोडियम, फैट और कॉलेस्ट्रोल कम होता है लेकिन रोगों से लड़ने वाले एंटी-ओक्सिडेंट बहुत अधिक होते हैं। इसमें प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट भी प्रचुर मात्रा में होता है।

अगर ध्यान से देखा जाए तो जितने विटामिन्स 10 सब्जियों में पाए जाते हैं उतने ही विटामिन्स केवल मशरूम में पाए जाते हैं। इसमें बिटामिन बी के सभी कॉम्पोनेन्ट जैसे राइबोफ्लेविन, फोलेट, थायमिन, पैंटोथेनिक और नियासिन पाए जाते हैं। इसमें विटामिन डी भी भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा इसमें सेलेनियम, पोटेशियम, कॉपर, आयरन, फास्फोरस, बीटा ग्लूकान, भी पाया जाता है जो अन्य सब्जियों में बहुत कम पाया जाता है।

मशरूम में कॉलिन भी पाया जाता है जो नींद, पेशियों के काम करने, याद्दास्त और दिमाग बढाने में मदद करता है। कुल मिलाकर कह सकते हैं कि यह हमारे शरीर के बेहतर स्वास्थ्य के लिए रामवाण है जो केवल सर्दियों के मौसम में अधिक मिलता है। अतः हमें इस रामवाण को आजमने का मौका खोना नहीं चाहिए और आज से ही इसे अपने भोजन में शामिल करना चाहिए।

You May Be Interested

Leave a Reply