आप यहाँ पर हैं

नीम की कडवी चाय के मीठे फायदे आपने कभी सोचे भी नहीं होंगे

नीम की चाय (Azadirachta Indica Tea) हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही फायदेमंद है. बहुत से बीमारियों में नीम रामबाण का काम करती है. इस को बहुत से औष्धिया तैयार करने के लिए उपयोग किया जाता है. अगर आप इस की चाय या फिर इस का काढा बनाकर तो आपका स्वास्थ एकदम निखर जाएगा. क्योंकि नीम हमारे खून को साफ़ करती है. जिससे हमारे चेहरे पे होने वाले कील मुहासे का जड़ से सफाया हो जाता है.

यह हमारे शरीर के अन्दर छिपे बैक्टीरिया और वाइरस से लड़ने में बहुत अधिक असरदार है. यदि आपके सांसो में से बदबू आने की समस्या है. तो वह भी इस चाय से हमेशा के लिए दूर हो जायेगी. यह हमारे दांतों को सड़न से बचाती है. यह कब्ज के रोग में भी बहुत ही लाभकारी है.

यह हमारे खून को साफ कर के हमारी काया को निरोगी बनाती है. इसकी चाय बहुत सी खतरनाक बीमारियां जैसे उच्च रक्तचाप, निमोनिया, मलेरिया, मधुमेह तथा दिल के रोग से हमारी रक्षा करती है. तो जब इस की चाय के इतने फायदे है तो क्यों न इसे अजमाया जाए.  आइये जानते हैं इसकी चाय किस प्रकार से बनाई जाती है. इसे पीते समय हमे कुछ सावधानियां भी रखनी है.नीम की कडवी चाय के मीठे फायदे आपने कभी सोचे भी नहीं होंगे

नीम की कडवी चाय के मीठे फायदे आपने कभी सोचे भी नहीं होंगे

नीम (Azadirachta Indica) की चाय कैसे बनाया जाता है

  1. किसी बर्तन में जरुरत के हिसाब से पानी उबाल लें.
  2. अब एक कप के अंदर लगभग मुठी भर नीम की पत्तियां डालें. इनके ऊपर से उबला पानी डालें.
  3. कुछ देर लगभग 5 मिनट के बाद पत्तियों को छान कर अलग कर लें.
  4. अब कप के पानी में थोडा सा शहद या फिर नींबू का रस मिलाएं. लीजिये तैयार है आपकी स्वास्थवर्धक नीम की चाय.

विशेष नोट:  इस के पत्तों की जगह नीम का पावडर भी इस्तेमाल किया जा सकता है.

अगर आपने नीम की चाय प्रयोग करने का मन बना लिया हो तो ये बाते जरुर ध्यान में रखे.

  • इस की पत्तियों की चाय वैसे तो स्वास्थ्य के लिये बहुत ही अच्छी होती है. परन्तु इसके कुछ साइड इफेक्ट भी हो सकते हैं. यदि आप गर्भवती महिला हैं. या फिर गर्भवती होने की तैयारी में हैं. तो उस केस में इस चाय को पीने से परहेज करें. यह चाय आपका गर्भपात भी कर सकती है.
  • इस की चाय 2 कप से ज्यादा नहीं पीनी चाहिये. क्योंकि यह बहुत ज्यादा तेज होती है. इसे ज्यादा पीने से आपको उल्टी का मन हो सकता है.
  • इस की चाय हमें हर रोज नहीं पीनी चाहिए.

दोस्तों कैसा लगा ये लेख यदि पसंद आये तो जरुर शेयर करें.

You May Be Interested

Leave a Reply