आप यहाँ पर हैं

दांत में मवाद का कारण तथा असरदार घरेलू उपचार

दांत में मवाद (Teeth Pus) पड़ने का कारण मसूड़ों में जलन होने के कारण और टूटे हुए दांत के कारण होता है. दांत में पस (Teeth Pus) मुख्य रूप से एक प्रकार का संक्रमण होता है. जो मसूड़ों और दांतों की जड़ों के बीच होता है. इसके कारण दांत के अंदर पस बन जाता है. जिसके कारण दांत में दर्द होना शुरु हो जाता है.

जिस दांत में पस (Teeth Pus) हो जाता है उसमें बैक्टीरिया प्रवेश कर जाता है. वह बढ़ता रहता है. जिसके कारण जो दांतों को सहारा देती हैं उन हड्डियों में संक्रमण हो जाता है. समय पर उपचार नहीं किया गया तो खतरनाक हो सकता है.दांत में मवाद

loading...

दांत में मवाद (Teeth Pus) का कारण

दांतों में पस होने के कारण मसूड़ों की बीमारी मुंह की सफाई ठीक से न करना प्रतिरक्षा प्रणाली कमज़ोर होना टूटा हुआ दांत मसूड़ों में सूजन और जलन दांतों में संक्रमण बैक्टीरिया कार्बोहाइड्रेट युक्त तथा चिपचिपे पदार्थ अधिक मात्रा में खाना आदि होता है.

दांतों में पस (Teeth Pus) होने के कारण जो दर्द होता है. वह असहनीय होता है. इस दर्द को रोकने के लिए लोग तरह तरह के उपचार करते हैं. परंतु अंत में दर्द बढ़ और भी जाता है.

दांत में पस(Teeth Pus) होने पर उपचार

लहसुन (Garlic)

आपके दांत में बहुत अधिक दर्द हो रहा हो तो फिर आप ऐसा कर सकते हैं कि कच्चे लहसुन की एक कली लें. इसे पीसें और निचोड़कर इसका रस निकालें. इस रस को मसूड़े के प्रभावित क्षेत्र पर लगायें. यह घरेलू उपचार दांत के दर्द में जादू की तरह काम करता है.

loading...

लौंग का तेल (Clove Oil)

लौंग का तेल भी संक्रमण रोकने में सहायक होता है तथा दांतों के दर्द में तथा मसूड़ों की बीमारी में अच्छा उपचार है. आप थोड़ा सा लौंग का तेल लें तथा तथा इस तेल से धीरे धीरे ब्रश करें. अपने मसूड़ों पर धीरे धीरे मालिश करें.

नारियल के तेल

आईल पुलिंग यह एक घरेलू उपचार बहुत ही सहायक है. इसमें आपको सिर्फ नारियल के तेल की आवश्यकता होती है. आप एक चमच्च नारियल का तेल लें और इसे अपने मुंह में चलायें. बस इसे निगले नहीं तथा इसे लगभग 30 मिनिट तक अपने मुंह में रखें रहें. फिर आप इसे थूक दें और मुंह धो लें. आपको निश्चित रूप से आराम मिलेगा.

पेपरमिंट आईल

दांत के दर्द में पेपरमिंट आईल जादू की तरह काम करता है आप अपनी उँगलियों के पोरों पर कुछ तेल लें तथा इसे धीरे धीरे प्रभावित क्षेत्र पर मलें इससे आपको दांत के दर्द से तुरंत आराम मिलेगा.

सेब का सिरका

दांतों में पस होने पर ऐप्पल सीडर विनेगर एक अन्य प्रभावशाली उपचार है. चाहे वह प्राकृतिक हो या ऑर्गेनिक. यह बहुत अधिक प्रभावशाली है. एक चमच्च ऐप्पल सीडर विनेगर लें. इसे कुछ समय के लिए अपने मुंह में रखें. फिर इसे थूक दें. इसे निगलें नहीं. इससे प्रभावित क्षेत्र रोगाणुओं से मुक्त हो जाएगा. इससे सूजन भी कम होती है.

You May Be Interested

Leave a Reply